वर्डप्रेस ये दुनिया का सबसे बड़ा सेल्फ-होस्टेड ब्लॉगिंग टूल है, इसके जरिए हजारो ब्लॉग और वेबसाइट बनाई गई है।

वर्डप्रेस विभिन्न वेबसाइटों के निर्माण के लिए एक उत्कृष्ट प्लेटफार्म है। ब्लॉगिंग साइट बनाने के अलावा, वर्डप्रेस का उपयोग ई-कॉमर्स वेबसाइट, पोर्टफोलियो साइट्स, बिजनेस वेबसाइट, वन पेज साइट बनाने के लिए किया जा सकता है।

image credit- My Pixteller account

वर्डप्रेस क्या है?

वर्डप्रेस को एक ओपन-सोर्स सीएमएस के रूप में परिभाषित किया जाता है जिसे GPLv2 के तहत लाइसेंस दिया गया है।

इसका मतलब है कि किसी को भी मुफ्त में वर्डप्रेस सॉफ्टवेयर को संशोधित करने के साथ-साथ उपयोग करने का अधिकार मिलता है।

वर्डप्रेस के जरिए ब्लॉगर और डेवलपर को बहुत ही आसानी से किसी पूर्व ज्ञान के बिना वेबसाइट बना सकते है।

वर्डप्रेस के फीचर्स

वर्डप्रेस को इसकी विशेषताओं के कारण सबसे लोकप्रिय सामग्री प्रबंधन प्रणाली (सीएमएस) माना जाता है।

  • वर्डप्रेस की सबसे बड़ी खासियत यह है कि आप बिना किसी प्रोग्रामिंग और डिजाइन नॉलेज के डायनामिक वेबसाइट बना सकते हैं।
  • वर्डप्रेस थीम-बेस पे आधारित है, जो आपको विभिन्न ओपन-सोर्स और प्रीमियम डिज़ाइन थीम के लिए विकल्प प्रदान करता है, जिसे बिना किसी डिज़ाइनिंग ज्ञान के आसानी से बनाया जा सकता है। इसके लिए हजारो थीम उपलब्ध है।
  • प्लगइन्स वर्डप्रेस की कार्यक्षमता का विस्तार करते हैं, जिसका उपयोग नए आवश्यक मॉड्यूल को जोड़ने के लिए किया जा सकता है। ५० हजार से ज्यादा प्लगइन उपलब्ध है। उसमेसे ज्यादातर फ्री में उपयोग में ला सकते है।
  • वर्डप्रेस बहुभाषी है, जो उपयोगकर्ताओं को अपनी भाषा में सामग्री का अनुवाद करने की अनुमति देता है।
  • वर्डप्रेस साइट्स सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (SEO) फ्रेंडली हैं, इसका मतलब है कि बिल्ट-इन वर्डप्रेस को सर्च इंजन लिस्टिंग के लिए आसानी से ऑप्टिमाइज़ किया जा सकता है।
  • वर्डप्रेस में एक इनबिल्ट मीडिया मैनेजमेंट सिस्टम है, जिसका इस्तेमाल इमेज, म्यूजिक, डॉक्यूमेंट आदि को मैनेज करने के लिए किया जाता है और इसे टेक्स्ट कंटेंट के साथ इस्तेमाल किया जा सकता है।

वर्डप्रेस इस्तमाल करने के फायदे

  • GNU जनरल पब्लिक लाइसेंस (GPL) के तहत वर्डप्रेस एक मुक्त और ओपन-सोर्स प्लेटफार्म है।
  • हम अपने हिसाब से थीम और प्लगइन का उपयोग कर सकते है।
  • हमें वर्डप्रेस के लिए कोई पैसे देने नहीं होते। यदि हम प्रीमियम थीम या प्लगइन चाहे तो उसे पैसे देके ले सकते है।

WordPress.org vs WordPress.com  में क्या अंतर है  ?

आप नए है तो WordPress.com और wordpress.org के बीच अंतर को लेकर बहुत परेशानी हो सकती है। वे एक दूसरे से बहुत अलग हैं। 

WordPress.org से आप वर्डप्रेस सॉफ्टवेयर डाउनलोड कर सकते हैं। और अपने सर्वर पे उसे अपलोड कर के चला सकते है | 

दोनों ही प्लेटफार्म अपने फायदे और नुकसान के साथ आते हैं। आइए उन पर एक नज़र डालें:

WordPress.com

फायदे 

  • बिना किसी ख़र्चे के अपना बेसिक बोग वेबसाइट बना सकते है।
  • फ्री प्लान में सब डोमेन के जरिए ब्लॉग बना सकते है।
  • यहाँ पे हमें थीम प्लगइन को अपडेट करने का काम नही करना पड़ता वो सब ऑटोमैटिक हो जाता है।

नुकसान 

  • हम बैक एन्ड में php कोड में कुछ बदलाव नहीं कर सकते।
  • हमें अपने कस्टम थीम और प्लगइन लगाने के लिए पेड प्लान लेना होता है।
  • अपनी साइट पे हमारे अनुमति के बिना विद्यापन दिखाई देते है। और उसके द्वारा जो कमाई होती है, उसमे से हमें कुछ नहीं मिलता।

wordpress.org

फायदे 

  • आप अपनी वेबसाइट के मालिक खुद होते है। आप अपनी मनचाहे तरीके से अपने ब्लॉग को बना सकते है।
  • खुद ही होस्ट करने की वजह अपने हिसाब से कोड में बदलाव करने की इजाजत मिलती है।
  • हम अपने मर्जी से जो चाहे वो थीम , प्लगइन का उपयोग कर सकते है।
  • अपने हिसाब से विद्यापन लगा सकते है। या नहीं लगानी हो तो उसे रोक सकते है। जो इनकम होनेवाली है वो अपनी स्वय की होती है।

नुकसान 

  • हमें खुद को ही वर्डप्रेस कोर, थीम, प्लगइन को अपडेट रखना पड़ता है। लेकिन इसके लिए ज्यादा समय नहीं लगता।
  • हमें अपने ब्लॉग को सुरक्षित रखने के लिए हमेशा खुद को ही बैकअप लेना होता है।
  • हम अपने वेबसाइट पे कुछ गलती करते है हमें ही भुगतना पड़ता है।

आपको इस पोस्ट के जरिए जो वर्डप्रेस के बारे बेसिक पता चला है। और आप जैसे जैसे वर्डप्रेस को उपयोग में लाओगे वैसे बहुत आसान अप्लीकेशन लगेगा।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *