एसईओ करते वक़्त आपने पिलर पेज के बारे में सुना होगा | पिलर पेज नाम से ही समज आ सकता है ये एसईओ के लिए क्यों महत्वपूर्ण होगा | 

पिलर पेज एक ही काम करता है। यह वह आधार है जो आपके बाकी सामग्री विपणन का समर्थन करता है।

पिलर पेज क्या होता है ?

पिलर पेज एक ऐसा पेज  है की उसपे जो content लिखा जाता है वो लम्बा होता है | उसमे विषय के सभी पहलू के बारे में लिखा जाता है | सभी पहलू को विस्तारपूर्वक नहीं बताया जाता सिर्फ आशय थोड़े शब्दों में बताया जाता है |

जो विषय के अलग अलग पहलु है उसके पोस्ट बनाके के पिलर पेज के जरिये लिंक दिया जाता है |  

इससे दर्शक को उस टॉपिक के बारे में विस्तृत जानकारी प्रदान करता है | जब दर्शक को लगता है के इस टॉपिक में से कुछ पहलू पे उसे ज्यादा जानकारी के लिए लिंक के जरिये जाके वो उस पहलू पे विस्तारपूर्वक पढ़ के समझ लेगा | 

SEO के लिए पिलर पेज प्रभावी क्यू है ?

पिलर पेज का कन्टेन्ट और उससे लिंक करनेवाले पोस्ट का एक ग्रुप बन जाता है |  सर्च इंजिन को वेल ऑर्गनाइज कन्टेन्ट पसंद आता है |

इसी वजह से उसे पोस्ट को रैंक करते वक्त लगता है के सब जानकारी अच्छी तरह से मौजूद है, तो वह रैंकिंग के वक्त इसे बढ़ावा देता है | 

आप के पास उस टॉपिक अलग अलग बहुत सारी पोस्ट होती है और सही तरह इस इंटरलिंक नहीं होती | वहा हर पोस्ट के अलग से रैंक करने के लिए प्रयास करने पड़ते है | सर्च इंजिन समझता है के हर पोस्ट अलग है तो उस हिसाब से उन्हें रैंक किया जाये | 

बल्कि पिलर पेज का ढांचा सर्च इंजिन को सभी पोस्ट को एक पेज में समेट के देखता है  तो वो कंटेंट रैंक होने के लिए ज्यादा ताकतवर बन जाता है |  

पिलर पेज
सोर्स – हबस्पॉट

पिलर पेज कैसे बनाए ?

स्टेप १ – अपना विषय चुने

पहला और सबसे महत्वपूर्ण कदम यह तय करना है कि आप किस बारे में बात करने जा रहे हैं। मुझे  ऑनलाइन पैसे कैसे कमाए इस विषय पे पिलर पोस्ट बनाना है |

इसके लिए में पैसे कमाने के तरीके क्या है उसपे रिसर्च करके “मनी मेकिंग आइडियाज ” का पिलर पोस्ट लिखूंगा उस पोस्ट में जितने आईडिया वो लिखूंगा |

हर एक आइडियाज की सिर्फ समरी पिलर पोस्ट में डालूंगा |

स्टेप २ – पोस्ट की लिस्ट बनाए   

हमने पिलर पोस्ट में जो आइडियाज लिखे है उसके अलग अलग डिटेल पोस्ट बनायेगे |

हमने बहुत से पोस्ट देखे होंगे के उसमे आइडियाज तो समरी के साथ पढ़े होंगे लेकिन जब हमें मनी मेकिंग का एक आईडिया अच्छा लगता है तो उसके डिटेल्स के हमें फिरसे उस आईडिया का सर्च करना पड़ता है |

लेकिन हम यहाँ पिलर पोस्ट के तकनीक से बनानेवाले है तो उस आईडिया का डिटेल पोस्ट हमारे पास है | दर्शक यहाँ से हमारे दूसरे पोस्ट  जायेगा |

पोस्ट आईडिया – ऑनलाइन पैसे कैसे कमाए -इस पिलर पेज के लिए

  • ब्लोगिग से कैसे कमाए
  • एफिलिएट मार्केटिंग से पैसे
  • फ्रीलांसिंग से  पैसे कमाने के तरीके 
  • ऑनलाइन ट्यूशन लेके

ऐसे कुछ आईडिया बताए है उसपे पोस्ट बनाने है |  

स्टेप ३ – रेगुलर अपडेट

हमने पिलर पेज और उसके लिए लगनेवाले पोस्ट बनाके के पब्लिश किये है | अब इस ऑनलाइन मनी मेकिंग आईडिया का जो पिलर पोस्ट बनाया है |

इसमें हर २-३ महीने में देखना है के कुछ नया आया है या कोई आईडिया अब बंद हुआ है | जो पोस्ट लिखे है उसमे कुछ चेंज करना जरुरी है |

इस प्रैक्टिस से हमारे ब्लॉग पे रेगुलर ट्रैफिक आते जायेगा |   

 

पिलर पेज में हमें कितने पोस्ट लिखने क्यों जरुरी है ?

यह आपके पिलर पेज पे टॉपिक है उसपे निर्भर करता है |
आप १० पोस्ट बनायेगे तो अच्छा है। इतने पोस्ट आमतौर पे काफी होते है |

सर्च इंजिन का एक उद्देश्य होता है के कैसे दर्शक को उसने जो सर्च किया हुआ कीवर्ड है उसका जवाब उसे बड़ी आसानी से मिले |  

सर्च कोशिश रहती है के दर्शको का समाधान और ब्लॉगर की सर्च इंजिन का समाधान | इसके लिए हमें दर्शको को सामने रख के अपना कन्टेन्ट बनाना होता है | 

इससे आपको क्या लगता है के पिलर पेज का हमें फायदा होने वाला है |  तो अपने लिए पिलर पेज का निर्माण शुरू कर सकते है |